• समस्त राजकीय, सवित्त,एवं वित्तविहीन विधालय बेवसाइट पर अपने विधालय का सम्पूर्ण व्यौरा जिला विधालय निरीक्षक द्वारा दिये गये प्रोफार्मा पर उपलब्ध करायें।
• समस्त विधालय अपने परिसर में कोचिंग सेन्टर एवं शादी- विवाह व अन्य वाहय समारोह जो गैर शैक्षिक हो न करें।
• जनपद के समस्त विधालय मैदान में प्रात: सायंकाल प्रशिक्षण हेतु जनपद के सभी छात्रछात्राओं को नि:शुल्क सुविधा दी जायेगी। विधालयों के प्रधानाचार्य एवं प्रधानााचार्या सुविधा मुहैया करायें।
• प्रत्येक विधालय में स्काउट एण्ड गाइड के ट्रेनर बच्चों को नियमित प्रशिक्षण प्रदान करें।
• समस्त राजकीय, सवित्त एवं वित्तविहीन माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक विद्यालय अपने विद्यालय में मार्शल आर्ट की विद्या में छात्र एवं छात्राओं को खेल प्रशिक्षण के साथ प्रशिक्षित करना सुनिश्चित करें। अपडेट